JTET 2020 ! Child Development & Pedagogy ! Practice Set-4 !

Q1. डिस्लैक्सिया का सम्बन्ध है

1.    लिखने की अक्षमता से

2.    पढ़ने की अक्षमता से

3.    आंकिक अक्षमता से

4.    तार्किक अक्षमता से

 S1. (2) डिस्लैक्सिया का सम्बंध पढ़ने की अक्षमता से है। इस विकार से बालक को अक्षर को पहचानने में कठिनाई होती है। आंकिक अक्षमता को डिस्कैलकुलिया विकार के नाम से जाना जाता है।

Q2. बच्चों को सीखने हेतु अभिप्रेरित करने के लिए शिक्षक को बढ़ावा देना चाहिए।

1.    कक्षा में प्रथम आने वाले बच्चे को पुरस्कृत करके

2.    प्रतिस्पर्धा

3.    सीखने हेतु उचित स्थिति और वातावरण का सृजन

4.    कक्षा में प्रतिभाशाली बच्चों की प्रशंसा करके

 S2. (3) शिक्षक द्वारा उचित स्थिति एवं वातावरण का सृजन करके बच्चों को सीखने हेतु अभिप्रेरित किया जा सकता है।

 

Q3. निम्न में से कौनसे अच्छे अनुशासन के लिए मुख्य तत्व हैं ?

 I. कुशल मुख्याध्यापक  II. स्कूल का स्वस्थ वातावरण

III. आदर्श अध्यापक  IV. पुरस्कार और दण्ड

1.    केवल II

2.    I, II, IV

3.    I एवं III

4.    ये सभी

S3. (4) अच्छे अनुशासन के महत्वपूर्ण घटक निम्न है- 1. कुशल मुख्याध्यापक 2. स्वस्थ वातावरण 3. आदर्श अध्यापक 4. पुरस्कार एवं दण्ड

 

Q4. एक आदर्श अध्यापक में पाया जाने वाला गुण है

1.    विषय-वस्तु पर अधिकार

2.    लोकतन्त्रात्मक दृष्टिकोण

3.    बाल मनोविज्ञान का ज्ञान

4.    उपरोक्त सभी

 S4. (4) आदर्श अध्यापक के महत्वपूर्ण ग़ूण- 1. लोकतांत्रिक दृष्टिकोण 2. विषय का पूर्ण ज्ञान 3. बालमनोविज्ञान का ज्ञान 4. आदर्शवादी आचरण 5. अनुशासन प्रियता 6. शिक्षण कौशल युक्त

 

Q5. "पिछड़ा बालक वह है, जो अपने पाठशाली जीवन के मध्य (10-11 वर्ष) में अपनी आयु के अनुरूप सामान्य कक्षा से नीचे की कक्षा का कार्य न कर सके।" यह कथन किसका है?

1.    टर्मन

2.    सिरिल बर्ट

3.    टेलर

4.    मारंटिस

 S5. (2) सिरिल बर्ट के अनुसारपिछड़ा बालक वह है, जो अपने स्कूल जीवन के बीच अपनी आयु के समकक्ष से नीचे की कक्षा का कार्य करने में असमर्थ हो।" बर्ट का मत है कि जिस बालक शैक्षिक (बौद्धिक) उपलब्धि 85 से कम होती है। उसे पिछड़ा बालक कहा जा सकता है।

 

Q6. आपकी कक्षा में एक बच्चा रोज आपको परेशान करने के लिए अप्रासंगिक प्रश्न पूछता है। आप क्या करेंगे?

1.    उसे डाँटेंगे

2.    प्रधानाचार्य से शिकायत करेंगे

3.    उससे बातचीत करेंगे

4.    उसके माता-पिता से शिकायत करेंगे

 S6. (3) छात्र द्वारा बार-बार शिक्षक से अप्रासंगिक प्रश्न पूछने पर शिक्षक को उसकी समस्या का पता लगाना चाहिए तथा उचित परामर्श दे कर उस समस्या को दूर करने का प्रयत्न करना चाहिए

 

Q7. पियाजे की कौन-सी अवस्था का सम्बन्ध अमूर्त एवं तार्किक चिन्तन से है?

1.    पूर्व संक्रियात्मक अवस्था

2.    संवेदीगामक अवस्था

3.    अर्मूत संक्रियात्मक अवस्था

4.    मूर्त संक्रियात्मक अवस्था

 S7. (3) जिन पियाजे ने अपने सिद्धान्त में बुद्धि के विकास के चार चरण दिये हैं- (i) संवेदीगामक अवस्था - (0-2) वर्ष (ii) अमूर्त संक्रियात्मक अवस्था - (2-7) वर्ष (iii) मूर्त संक्रियात्मक अवस्था - (7-11) वर्ष (iv)

औपचारिक संक्रियात्मक अवस्था - (11-15) वर्ष आ'पचारिक अवस्था में बालक अमूर्त एवं तार्किक चिंतन करता है। औपचारिक अवस्था ही अमूर्त संक्रियात्मक अवस्था होती

 

Q8. एन सी एफ, 2005 (NCF, 2005) की संस्तुतियों के अनुसार, कक्षा एक एवं कक्षा दो के विद्यार्थियों के लिए मूल्यांकन का तरीका होना चाहिए

1.    मौखिक परीक्षण के आधार पर

2.    लिखित परीक्षण के आधार पर

3.    लिखित एवं मौखिक परीक्षण के आधार पर

4.    प्रेक्षण के आधार पर

 S8. (4) राष्ट्रीय पाठ्य चर्चा की रुपरेखा - 2005 (NCF2005) के अनुसार कक्षा - 2 अर्थात पूर्व प्राथमिक स्तर पर बच्चों का मूल्यांकन प्रेक्षण के आधार पर होना चाहिए।

 

Q9. संस्कृति पर शिक्षा का क्या प्रभाव पड़ता है?

1.    संस्कृति के हस्तान्तरण में सहायता करना

2.    संस्कृति की निरन्तरता को बनाए रखना

3.    संस्कृति का परिष्करण

4.    उपरोक्त सभी

 

S9. (4) शिक्षा संस्कृति की निरंतरता, हस्तान्तरण एवं उसका परिस्करण करने में सहायक होती है।

 


Q10. कोमल शिल्प उपागम सम्बन्धित है

1.    दूरदर्शन से

2.    रेडियो से

3.    कम्प्यूटर से

4.    मनोवैज्ञानिक सिद्धान्तों के अनुप्रयोग से

 S10. (4) कोमल शिल्प उपागम का सम्बंध मनोवैज्ञानिक सिद्धांतों के अनुप्रयोग से है।

 

Q11. एक शिक्षिका का भावनात्मक बुद्धिलब्धांक ऊँचा है। इसका तात्पर्य है कि

1.    वह उच्च अनुशासनप्रिय है

2.    वह उच्च बुद्धि वाली है

3.    वह हास-परिहास वाली है

4.    वह सन्तुलित व्यवहार रखती है

 S11. (4) संतुलित व्यवहार करने वाले शिक्षकों में भावत्मक बुद्धिलब्धांक ऊँचा होता है।

 

Q12. निम्न में से वस्तुनिष्ठ परीक्षणों के गुण के सम्बन्ध में सही कथन है I. इनका अंकन शीघ्रता एवं सुगमता से किया जा सकता है II. ये परीक्षकों के व्यक्तिगत प्रभाव से प्रभावित नहीं होते हैं। III. वस्तुनिष्ठता के कारण ये आधक विश्वसनीय एवं वैध होते हैं। IV. उपरोक्त में से कोई नहीं

1.    I, II एवं III

2.    केवल I

3.    केवल IV

4.    II एवं III

 S12. (1) वस्तुनिष्ठ परीक्षण के गुण- 1. इस परीक्षण को शिघ्रता से एवं सुगमता से किया जा सकता है 2. यह परीक्षण परीक्षक के व्यक्तिगत प्रभाव से प्रभावित नहीं होता है 3. वस्तुनिष्ठता के कारण इस परीक्षण की विश्वसनियता बनी रहती है।

 

Q13. विद्यालय का कार्य होता है

1.    संस्कृति का परिष्करण

2.    संस्कृति का संरक्षण

3.    संस्कृति के नये प्रतिरूपों का निर्माण

4.    उपरोक्त सभी

 S13. (4) वह स्थान जहाँ बालकों को सौद्देश्यपूर्ण शिक्षण अधिगम कार्य कराया जाता है वह विद्यालय कहलाता है।

विद्यालय द्वारा किया गया मुख्य कार्य निम्न है- 1. बालकों को उनकी संस्कृतियों से परिचित कराना एवं उनका संरक्षण करना 2. संस्कृतियों का परिष्करण करना 3. संस्कृतियों के नये प्रतिमानों की स्थापना करना।

 

Q14. सामाजिक परिवर्तन का सर्वाधिक कार्यकारी कारक है

1.    शिक्षा

2.    धर्म

3.    सरकार

4.    जाति

 S14. (1) सामाजिक परिवर्तन का सर्वाधिक कार्यकारी कारक शिक्षा है। स्वामी विवेकानन्द के अनुसार-"किसी समाज या राष्ट्र के विकास के लिए उस राष्ट्र के नागरिकों का शिक्षित होना अति आवश्यक है।"

 

Q15. राष्ट्रीय दृष्टि बाधितार्थ संस्थान (NIVH) स्थित है

1.    कोलकाता में

2.    शिमला में

3.    देहरादून में

4.    दिल्ली में

 S15. (3) राष्ट्रीय दृष्टि बाधितार्थ संस्थान (NIVH) उत्तराखण्ड के देहरादून जिले में स्थित है।

 

Q16. शिक्षा की प्रक्रिया के अंग होते हैं

1.    शिक्षार्थी

2.    शिक्षक

3.    पाठ्यक्रम

4.    ये सभी

 S16. (4) शिक्षण प्रक्रिया के मुख्यत: तीन अंग होते है पाठयक्रम, छात्र, शिक्षक शिक्षण प्रक्रिया में छात्र केन

 

Q17. प्रभावी और स्थायी शिक्षा ग्रहण करने के लिए विद्यार्थी के पास होना चाहिए

1.    योग्यता और अभिप्रेरणा का वांछित स्तर

2.    केवल शिक्षा प्राप्त करने के अवसर

3.    केवल उपयुक्त बौद्धिक स्तर

4.    केवल सीखने की योग्यता

 S17. (1) विद्यार्थी में प्रभावी एवं स्थायी शिक्षा ग्रहण करने के लिए योग्यता एवं अभिप्रेरणा का वांछित स्तर का होना अतिआवश्यक होता है।

 

Q19. 'खेल शिक्षण विधि' के प्रतिपादक कौन है?

1.    फ्रोबेल

2.    सुकरात

3.    किलपैट्रिक

4.    अरस्तू

 

S19. (1) मनोवैज्ञानिक फ्रोबेल के द्वारा खेल शिक्षण विधि का प्रतिपादन किया गया।

 

Q21. "प्रायः लड़कियाँ गणित में कमजोर होती हैं,"यह

1.    लैगिक पूर्वाग्रह पर आधारित धारणा है

2.    अनुसन्धान आधारित धारणा है

3.    सत्य धारणा है

4.    उपरोक्त सभी

 S21. (1) लड़कियों को गणित विषय में कमजोर होना एक लैंगिक पूर्वाग्रह पर आधारित कथन है क्योंकि यह धारणा प्रचलित रुढ़िगत धारणा है।

 

 Q22. प्रतिभाशाली बालकों में निम्न विशेषता होती है

1.    बुद्धिलब्धि 110 से अधिक

2.    अधिक महत्त्वाकांक्षा

3.    विस्तृत शब्दकोष

4.    उपरोक्त सभी

 S22. (4) प्रतिभाशाली बालकों की विशेषताए 1. अत्यधिक महत्वाकांक्षी 2. बुद्धि लब्धि 110 से अधिक 3. विस्तृत शब्दकोश 4. अनुशासनप्रिय 5. ज्ञानेन्द्रियों का शीघ्र विकास 6. उच्च व्यक्तित्व आदि।

 

Q23. सृजनवाद में

1.    शिक्षा शिक्षक केन्द्रित होती है

2.    बच्चे सीखने की प्रक्रिया में निष्क्रिय रूप से प्रतिभाग करते है

3.    शिक्षा बाल केन्द्रित होती है

4.    शिक्षा व्यवहारवादी होती है

 

S23. (3) सजनशीलता का तात्पर्य नये विचारों की उत्पत्ति है। सृजनवाद एक विचार है व्यक्तिगत विकास पर आधारित होती है। इसके अन्तर्गत मूल उद्देश्य बालक का हरक्षेत्र में विकास (बालकेन्द्रित) होता है।

 


Q24. निम्नलिखित में से कौन-सी परिस्थिति में बच्चे का संवेगात्मक एवं सामाजिक विकास अच्छे से होगा?

1.    बच्चे को अधिक-से-अधिक पढ़ने को कहा जाए

2.    जब बच्चे को महत्त्वपूर्ण माना जाए, उसकी भावनाओं का सम्मान किया जाए

3.    बच्चे के कक्षा में अच्छे अंक आए

4.    जब शिक्षक बच्चों को उनके बौद्धिक स्तर के अनुसार पढ़ाए

 S24. (2) बच्चों के संवेगात्मक एवं भावनात्मक विकास अच्छे तरीके से करने के लिए बालकों के भावनाओं का सम्मान करना चाहिए। अगर बालकों के भावनाओं को तिरस्कृत किया जाएगा तो बालकों में विद्रोह की भावना उत्पन्न होगी तथा बालक के व्यक्तित्व का विकास अवरुद्ध हो जाएगा।

 

Q25. बच्चों में अच्छे चरित्र के निर्माण के लिए

1.    चरित्र निर्माण के लिए व्याख्यान दिए जाने चाहिए

2.    पाठ्य-पुस्तकों में चरित्र निर्माण सम्बन्धी पाठ होने चाहिए

3.    कक्षा-कक्ष गतिविधि इस प्रकार से हो कि बच्चों को चरित्र निर्माण में सहायता मिल सके

4.    महापुरुषों की जीवनी बच्चों को पढ़ाई जानी चाहिए

 S25. (3) कक्षा-कक्ष की गतिविधियों से छात्र प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित होते है। अत: कक्षा कक्ष की गतिविधि इस प्रकार हो कि छात्र की गतिविधियो तथा आचरण में सकारात्मक सुधार एवं वृद्धि हो।

 

Q26. भारत के शैक्षिक इतिहास में किसने प्राथमिक शिक्षा का मौलिक अधिकार सम्बन्धी बिल,इम्पीरियल काउन्सिल में प्रस्तुत किया था?

1.    जवाहरलाल नेहरू

2.    कपिल सिब्बल

3.    गोपालकृष्ण गोखले

4.    अब्दुल कलाम आजाद

 

Q27. मूल्यांकन से अभिप्राय है

1.    छात्रों की बुद्धि का पता लगाना

2.    छात्रों की आवश्यकता का पता लगाना

3.    छात्रों के अधिगम की सफलता व असफलता का अध्ययन करना

4.    स्वास्थ्य परीक्षण करना

 

Q28. बेसिक शिक्षा हेतु महात्मा गाँधी ने किस पाठ्यक्रम पर बल दिया है?

1.    हस्तकला केन्द्रित

2.    नृत्यकला केन्द्रित

3.    पुस्तककला केन्द्रित

4.    संगीतकला केन्द्रित

 

Q29. छात्रों को 'ठीक, शाबास, बहुत अच्छा' कहना है

1.    अशाब्दिक पुनर्बलन

2.    शाब्दिक पुनर्बलन

3.    सकारात्मक शाब्दिक पुनर्बलन

4.    नकारात्मक शाब्दिक पुनर्बलन

Download PDF Practice Set-4

 

1. (2)         2. (3)         3. (4)         4. (4)         5. (2)

6. (3)         7. (3)         8. (4)         9. (4)         10. (4)

11. (4)       12. (1)       13. (4)       14. (1)       15. (3)

16. (4)       17. (1)       19. (1)       21. (1)       22. (4)

23. (3)       24. (2)       25. (3)       26. (3)       27. (3)

28. (1)       29. (3)


Reactions

Post a Comment

0 Comments