JTET 2019 Syllbus Paper 1 ! Jharkhand Teacher Eligibility Test 2019 Syllbus

JTET 2019 Exam Syllabus (I to V)


झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 की होने वाली पारीक्षा में 1 to 5 के लिए, इस बार 8th Class से लेकर 12th Class तक का प्रश्न पूछा जाएगा, और ज़्यादातर प्रश्न NCERT & CBSE Board के Book से पुछे जाने की संभावना है, तो चलिये जानते है, 2019 की नई नियमावली आने के बाद, झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा 2020 के Primary Teacher ( 1to 5) Paper 1  का नया Syllabus क्या होगा ! 

1)Child Development and Pedagogy

a)Child Development :- बाल विकास
v  Concept of development :- विकास की अवधारणा
v  Principles of the development of childrens :- बच्चों के विकास के सिद्धांत
v  Influence of Heredity & Environment :-आनुवंशिकता और पर्यावरण के प्रभाव
v  Socialization processes :- समाजीकरण की प्रक्रिया
v  Concepts of child-centered and progressive education :- बाल-केंद्रित और प्रगतिशील शिक्षा की अवधारणा
v  Critical perspective of the construct of Intelligence :- खुफिया निर्माण का महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
v  Language & Thought :- भाषा और सोच
v  Gender as a social construct :- एक सामाजिक निर्माण के रूप में लिंग
v  Individual differences among learners, understanding differences based on diversity of language, caste, gender, community, religion :- बच्चों के बीच व्यक्तिगत अंतर, भाषा, जाति, लिंग, समुदाय, धर्म की विविधता के आधार पर मतभेदों को समझना
v  Formulating appropriate questions for assessing readiness levels of learners :- बच्चों की तत्परता के स्तर का आकलन करने के लिए उपयुक्त सवाल तैयार करना
v  Addressing the needs of children with learning difficulties, ‘impairment :- सीखने में कठिनाई, कमजोर बच्चों को संबोधित करना

b)Pedagogy :- शिक्षाशास्त्र
v  How children think and learn :- बच्चे कैसे सोचते है और कैसे सीखते है
v  Basic processes of teaching and learning :- बेसिक शिक्षण और सीखने की प्रक्रिया
v  Alternative conceptions of learning in children :- बच्चों में शिक्षा के वैकल्पिक धारणाएं
v  Cognition & Emotions :- अनुभूति और भावनाओं
v  Motivation and learning :- प्रेरणा और सीखना
v  Factors contributing to learning :- व्यक्तिगत और पर्यावरण


2.Language I (Hindi)
v  हिन्दी की ध्वनि व्यवस्था
v  हिन्दी वर्ण
v  वर्णमाला,
v  अर्थ एवं व्याकरण से संबंधित अशुद्धियाँ और उनका संशोधन
v  हिन्दी का शब्द भंडार- तत्सम, तद्भव, देशज और विदेशशब्द
v  शब्द रचना- उपसर्ग, प्रत्यय, संधि, समास
v  हिन्दी की वाक्य रचना
v  वाक्य भेदः रचना की दृष्टि से- सरल, मिश्र और संयुक्त वाक्य
v  अर्थ की दृष्टि सेविधिवाचक, निषेधवाचक, आज्ञावाचक, प्रश्नवाचक, विस्मय वाचक, संदेहवाचक, इच्छा-वाचक,संकेत वाचक
v  हिन्दी की अर्थ व्यवस्थाः पर्यायवाची, विलोम, एकार्थक, अनेकार्थक शब्द
v  अनेक के लिए एक शब्द
v  एक शब्द के विभिन्न प्रयोग
v  म्हावरे और लोकोक्तियाँ
v  हिन्दी के प्रमुख लेखक
v  हिन्दी के प्रमुख कवि
v  हिन्दी काव्य और उसका विकास
v  हिन्दी भाषा और साहित्य- भाषा
v  राष्ट्रभाषा का परिचय,
v  बोली और भाषा में अंतर,
v  हिन्दी भाषा का विकास,

3.Language –II (English)
v  Two unseen prose passages with question on comprehension,
v  Grammar and verbal ability
v  Principles of language Teaching
v  Role of listening and speaking
v  Function of language and how children use it as a tool
v  Challenges of teaching language
v  Language difficulties,
v  Errors and disorders
v  Language Skills
v  Teaching - learning materials Textbook, multi-media materials,

4. Mathematics
v  Geometry
v  Shapes & Spatial Understanding
v  Solids around Us
v  Numbers
v  Addition and Subtraction
v  Multiplication
v  Division
v  Measurement
v  Weight
v  Time
v  Volume
v  Data Handling
v  Patterns
v  Money
v  Nature of Mathematics
v  Place of Mathematics in Curriculum
v  Language of Mathematics
v  Community Mathematics
v  Evaluation through formal and informal methods
v  Problems of Teaching          
v  Error analysis and related aspects of learning and teaching
v  Diagnostic and Remedial Teaching

5. Environmental Studies
v  Family and Friends
v  Relationships
v  Work and Play
v  Animals
v  Plants
v  Food
v  Shelter
v  Water
v  Travel
v  Things We Make and Do


Reactions

Post a Comment

0 Comments